मध्य प्रदेश

धार्मिक मंत्रोच्चार पर छात्रों की पिटाई के आरोप में एमपी के स्कूल शिक्षक पर मामला दर्ज: पुलिस

मध्य प्रदेश की उज्जैन पुलिस ने तिरंगा यात्रा के दौरान “अनुशासनहीनता और धार्मिक नारे लगाने” के लिए पांच छात्रों की कथित तौर पर पिटाई करने के आरोप में एक निजी स्कूल के शिक्षक और उसके निदेशक पर मामला दर्ज किया है।

(प्रतीकात्मक फोटो)

पुलिस ने कहा कि मदर मैरी हायर सेकेंडरी स्कूल के कक्षा 11 और 12 के पांच छात्रों ने शिकायत दर्ज कराई थी कि मंगलवार को स्वतंत्रता दिवस के मौके पर आयोजित तिरंगा रैली के बाद जय श्री राम का नारा लगाने पर उनकी पिटाई की गई।

पुलिस ने कहा कि शिकायत के बाद, भारतीय दंड संहिता की धारा 323 (जानबूझकर चोट पहुंचाना) और 294 (अश्लील भाषा का उपयोग करना) के तहत मामला दर्ज किया गया था, लेकिन अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।

नागदा पुलिस थाना प्रभारी नलिन बुधोलिया ने कहा, शिकायत के अनुसार, स्कूल निदेशक मारिया शेखवात को (मंत्रों से) आहत महसूस हुआ और उन्होंने स्कूल शिक्षक विश्वजीत जयसवाल को छात्रों की पिटाई करने के लिए कहा।

उन्होंने कहा, “शिक्षक ने उन्हें छड़ी से पीटा, जिससे उन्हें चोटें आईं।”

शेखवात ने प्रथम सूचना रिपोर्ट (एफआईआर) पर आपत्ति जताते हुए कहा कि ”यह गलत है.” उन्होंने कहा कि अपने छात्रों को अनुशासित करने की कोशिश करने वाले शिक्षक के खिलाफ मामला दर्ज नहीं किया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा, “15 और 16 साल के छात्रों को अनुशासन सिखाने पर एफआईआर दर्ज करना गलत है।”

शेखावत ने कहा कि वे पांच छात्र दुर्व्यवहार कर रहे थे, वे लड़कियों को धक्का दे रहे थे और हंगामा कर रहे थे और जब उन्हें व्यवहार करने के लिए कहा गया तो उन्होंने छात्रों के बीच तनाव पैदा करने के लिए जय श्री राम का नारा लगाना शुरू कर दिया.

स्कूल निदेशक ने कहा, “उन्होंने शिक्षक को गंभीर परिणाम भुगतने की भी धमकी दी, इसलिए उन्होंने अनुशासन सिखाने के लिए उन्हें डांटा।”

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button